देश

भारतीय सांकेतिक भाषा शब्दकोश का तीसरा संस्करण

भारतीय सांकेतिक भाषा शब्दकोश का तीसरा संस्करण: 17 फरवरी 2021 को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत ने भारतीय सांकेतिक भाषा (ISL) शब्दकोश की तीसरी शुरुआत की है।

शब्दकोश की पहली और दूसरी संस्करण के 6000 शब्दों सहित इसमें कुल 10,000 शब्द हैं।
यह शब्द शैक्षणिक शर्तों, कानूनी और प्रशासनिक शर्तों, चिकित्सा शर्तों, तकनीकी शर्तों और कृषि शर्तों से संबंधित हैं। यह भी पढे: रक्षा मंत्री ने ई-छावनी पोर्टल लॉन्च किया

भारतीय सांकेतिक भाषा शब्दकोश संस्करण

EditionWhenterms
1st edition23 March 20183000 
2nd edition27 February 20196000
3rd edition17 February 202110000

भारतीय सांकेतिक भाषा शब्दकोश किसने विकसित किया?

भारतीय सांकेतिक भाषा का शब्दकोश भारतीय सांकेतिक भाषा अनुसंधान और प्रशिक्षण केंद्र (ISLRTC) द्वारा विकसित किया गया था।

भारतीय सांकेतिक भाषा अनुसंधान एवं प्रशिक्षण केंद्र (आईएसएलआरटीसी) एक ऐसा संस्थान है जो सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग (दिव्यांगजन) के तहत कार्य करता है।


📣 अब सारी ताजा खबरो की जानकारी सबसे पहले FacebookTwitterTelegram and Google News पे पाने के लिए Like और Follow करे।

Source
Press Information Bureau

Akash Saharan

I Love To Write Article on technology News, Reviews, Updates, Entertainment News, News Articles, Sports News, Education News....

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button